• 15-04-2024 01:04:59
  • Web Hits

Poorab Times

Menu

छत्तीसगढ

त्तीसगढ़ के धमतरी जिले में शराब बिक्री में जबरदस्त इजाफा हुआ है. बीते वित्तीय वर्ष के मुकाबले 17 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. इस बार राजस्व साल भर में 400 करोड़ रुपये के पार हो चुका है. हालांकि, आबकारी विभाग को भले ही इससे फायदो हो, लेकिन समाज की चिंता बढ़ गई है. चौंकाने वाली बात है कि लगभग 7 लाख की जनसंख्या वाले जिले में शराब की 27 दुकानें हैं. लेकिन, सिर्फ 27 दुकान ही दरकार को साल भर में 4 अरब कमा कर देने लगी हैं. लोग करीब-करीब रोज बड़ी मात्रा में शराब पी रहे हैं. वित्तीय वर्ष 2023-24 के बिक्री और खपत के आंकड़ों के मुताबिक, बीते वित्त वर्ष में देसी शराब 299979 लीटर शराब बिकी. जबकि, मौजूदा वित्तीय वर्ष 351189 लीटर बिक चुकी है. इसमें 17.07% की वृद्धि हुई है. वहीं, अंग्रेजी शराब बीते वर्ष में 73584 लीटर बिकी और मौजूदा वर्ष में 86196 लीटर बिक चुकी है. इसमें भी 17.14% की बढ़ोतरी दर्ज की गई है. धमतरी जिला आबकारी अधिकारी ने बताया कि यहां औसतन हर दिन एक से सवा करोड़ रुपये की बिक्री होती है. साल भर में बिक्री का यह आंकड़ा 400 करोड़ रुपये के पार हो चुका है. बिक्री के हिसाब से यह अच्छा प्रदर्शन है. आबकारी विभाग खुश, जनता नाखुश धमतरी में आबकारी विभाग संभाल रहे जिला आबकारी अधिकारी प्रभाकर शर्मा ने बताया कि धमतरी में हर दिन करीब 1 करोड़ से ज्यादा की शराब बिकती है. और, साल दर साल बिक्री में इजाफा होता जा रहा है. जबकि, दुकानों की संख्या नहीं बढ़ाई गई है. प्रभाकर शर्मा ने आंकड़े गिनाते हुए बताया कि अब धमतरी में सालाना शराब बिक्री 400 करोड़ के पार जा चुकी है. लेकिन ये आंकड़े सिर्फ आबकारी विभाग के लिए ही खुशी का कारण हैं. समाज मे शराब का असर बढ़ते देख लोगों में नाराजगी दिखाई दी. धमतरी में बैंक के रिटायर्ड कर्मचारी अवधेश सिंह ने कहा कि अगर शराब बिक्री अरबो में होने लगी है तो ये बिल्कुल अच्छी खबर नहीं है.


वीडियो

Side link

Contact Us


Email:

Phone No.