रात में चोरी-छिपे अपनी प्रेमिका से मिलने पहुंचा प्रेमी, परिजनों ने उसे पीट-पीटकर मार डाला

download 2024 07 11T102708.466

ग्रेटर नोएडा के दनकौर क्षेत्र के पीपलका गांव में मंगलवार रात लड़की के परिजनों ने प्रेमिका से मिलने पहुंचे युवक और उसके दोस्त को बुरी तरह पीटा। प्रेमी अस्पताल में भर्ती होते समय मर गया।गंभीर रूप से घायल दोस्त अस्पताल में भर्ती है। तीन लोगों को मामले में गिरफ्तार कर लिया गया है। कमल, जो अस्तौली गांव में रहता था, पीपलका गांव की एक युवती से प्रेम करता था। युवती का परिवार इसका विरोध करता था।

मंगलवार को, कमल अपने दोस्त के साथ पीपलका गांव में एक युवती से मिलने गया था। प्रेमिका के परिजनों और भाई के दोस्तों ने एकजुट होकर दोनों दोस्तों को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया। समाचार मिलने पर दोनों युवा घायल अवस्था में दनकौर कोतवाली पहुंचे। घायलों को फिर से अस्पताल भेजा गया। जहां कमल उपचार के दौरान मर गया कमल और उसके दोस्त के शरीर पर कई अंदरूनी और गुम चोटों के निशान थे, पुलिस और उसके परिजनों ने बताया।

कमल के प्राइवेट पार्ट पर भी चोट थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या का कारण रक्तस्राव और आंतरिक चोट बताया गया है। इस मामले में कमल के चचेरे भाई नरेंद्र कुमार ने दनकौर कोतवाली में छह नामजद और छह अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने इस मामले में पीपलका गांव के सुमित, दादूपुर गांव के बॉबी और नवादा गांव के सोबीन को गिरफ्तार किया। पुलिस ने तीन युवकों को न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया।

बीए की पढ़ाई कर रहा था कमल

वह सात बहनों में से एक था। परिवार में वह सबसे छोटा था। पिता जयपाल का बचपन में ही निधन हो गया था। इसी वर्ष कमल ने इंटरमीडिएट की परीक्षा उत्तीर्ण की थी। उसने बिलासपुर के एक डिग्री कॉलेज से बीए की डिग्री भी ली थी। वह बिलासपुर शहर के जिम में भी नियमित रूप से व्यायाम करता था।

परिवार पर मुसीबतों का पहाड़ टूटा

इस घटना के बाद मृतक कमल के परिवार पर मुसीबत का पहाड़ टूट पड़ा है। मृतक के परिजनों को सांत्वना देने और ढांढस बंधाने वालों का गांव में तांता लगा हुआ है। घटना के बाद से मां शिमला और सातों बहनों का रो-रो कर बुरा हाल है।

पुलिस की मौजूदगी में अंतिम संस्कार

अस्तौली गांव में बुधवार सुबह 900 बजे ही पुलिस बल और हजारों ग्रामीणों की उपस्थिति के बीच कमल का अंतिम संस्कार किया गया।

सुनियोजित ढंग से घटना को अंजाम देने का शक

इस घटना में कई गांव के युवक शामिल रहे, जिससे लगता है कि इस वारदात को सुनियोजित ढंग से अंजाम दिया गया। कमल अपनी प्रेमिका से मिलने गया था या प्रेमिका ने फोन करके प्रेमी को गांव में बुलाया, पुलिस इसकी कॉल डिटेल के आधार पर जांच कर रही है। पुलिस का कहना है कि अचानक हुई घटना में कई गांव के हमलावर शामिल नहीं हो सकते।

युवती की कॉल डिटेल खंगाल रही पुलिस

पुलिस ने कमल, उसके दोस्त और उसकी प्रेमिका की फोन कॉल की डिटेल खगालनी शुरू कर दी है। हत्यारों की तलाश में पुलिस ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है। पीपलका गांव में आरोपी पक्ष के घर और आसपास के लोग फरार हैं। पुलिस सभी हमलावरों की गिरफ्तारी के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रही है।

समय पर मिल जाता उपचार तो बच सकती थी जान

पुलिस ने बताया कि परिजन दोनों घायलों को शाम 500 बजे कोतवाली लेकर आए थे। इसके बाद कई अस्पतालों में उपचार करने के लिए चक्कर लगाते रहे। इस दौरान अंदरूनी चोट और रक्तस्राव के कारण काफी देर हो चुकी थी। यदि सही समय पर कमल का ऑपरेशन हो जाता तो शायद उसकी जान बच सकती थी। गांव और अस्पताल में पुलिस तैनात इस घटना के बाद पीपलका, अस्तौली गांव और यथार्थ अस्पताल में एहतियात पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। पुलिस इस मामले में शामिल रहे अन्य हत्यारों की तलाश कर रही है। इसके लिए कई टीम गठित की गई है।

Hot this week

अगर आप मां वैष्णो देवी के दरबार जाने का बना रहे हैं पहले जान लें ये खबर

माता वैष्णो देवी जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए अहम...

हिमाचल के कैदी को आगरा लाए पुलिसकर्मी हाथ में हथकड़ी दिल में ताज देखने की हसरत…

विश्व के सात आश्चर्यों में शुमार ताजमहल को देखने...

Topics

अगर आप मां वैष्णो देवी के दरबार जाने का बना रहे हैं पहले जान लें ये खबर

माता वैष्णो देवी जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए अहम...

Related Articles