• 13-06-2024 22:14:59
  • Web Hits

Poorab Times

Menu

CAA नागरिकता लेने का नहीं, देने का कानून...' बोले गृहमंत्री अमित शाह, जानें 10 बड़ी बातें

दिल्लीः न्यूज18 के सबसे लोकप्रिय लीडरशिप कॉन्क्लेव का चौथा संस्करण राइजिंग भारत समिट 2024 आज भी जारी है. कार्यक्रम के दूसरे दिन विदेश मंत्री एस जयशंकर के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने हिस्सा लिया. इस दौरान उनसे नेटवर्क 18 के मैनेजिंग डायरेक्टर और ग्रुप एडिटर इन चीफ राहुल जोशी ने अमित शाह से सवाल-जवाब किया. अमित शाह ने बातचीत के दौरान सीएए से लेकर जांच एजेंसियों के छापे पर किए गए सवालों को लेकर जवाब दिया. साथ ही उन्होंने इलेक्टोरल बॉन्ड पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए फैसले और विपक्ष द्वारा उठाए गए सवालों पर भी प्रतिक्रिया दी. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बातचीत के दौरान विपक्ष पर जमकर निशाना साधा. आइए जानते हैं अमित शाह से हुई बातचीत की 10 प्रमुख बातें….राइजिंग भारत समिट में सीएए नियमों को इतनी देर से अधिसूचित करने पर सवाल का जवाब देते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, 'कानून पारित होने के बाद देश में बहुत भ्रम फैलाया गया. फिर कोविड आ गया.' वहीं विपक्ष द्वारा सीएए पर उठाए गए सवाल को लेकर उन्होंने कहा कि विपक्ष वोट बैंक की राजनीति के लिए देश में झूठ फैलाता है. सीएए किसी की नागरिकता नहीं छीनेगा.

राहुल गांधी की आरक्षण बहस का जवाब देते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने कहा, 'मोदी कैबिनेट में 27 ओबीसी मंत्री हैं. हमारे प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी स्वयं ओबीसी हैं.'

ईडी और सीबीआई छापों पर विपक्ष की टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया देते हुए केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा, 'वे ऐसी व्यवस्था चाहते हैं कि राजनेताओं पर कोई कार्रवाई न हो. ममता जी के मंत्री के पास से 51 करोड़ रुपये जब्त. कांग्रेस सांसद के घर से 350 करोड़ रु. वे क्या सोचते हैं, लोग देख नहीं रहे हैं.'

चुनावी बांड को लेकर विपक्ष द्वारा उठाए गए सवाल पर प्रतिक्रिया देते हुए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा, 'राहुल को जवाब देना चाहिए कि उन्होंने चुनावी बांड के माध्यम से 1600 करोड़ रुपये क्यों लिए? जब पूरा डेटा सामने आ जाएगा, तो INDI गठबंधन अपना चेहरा नहीं दिखा पाएगा.'

कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा शक्ति को खत्म करने वाले बयान पर टिप्पणी करते हुए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा, 'विपक्ष को परंपराओं का पता नहीं. देश की महिलाओं ने ठाना है की राहुल जी को शक्ति का परिचय इस चुनाव में जरूर कराना है. मातृशक्ति का आशीर्वाद पीएम मोदी के साथ है. आने वाली संसद में 33 फीसदी माताएं-बहने संसद के अंदर बैठी होंगी. पूरी दुनिया भारत मातृ शक्ति देखेगी की उसका सम्मान कैसे किया जाता. राहुल गांधी ये चीजे नहीं समझ पाएंगे.'

अमित शाह ने कहा, 'वोटबैंक बनाने के लिए विपक्ष द्वारा भ्रांति फैलाई की देश का अल्पसंख्यक खास कर के मुस्लिम भाईयों-बहनों का मतअधिकार छीन लिया जाएगा. जबकि इसका उल्टा है. CAA से किसी की नागरिकता नहीं जाने वाली. CAA नागरिकता देने का कानून है,लेने का नहीं. स्पष्ट कर देना चाहता हूं इस देश के मुसलमानों को CAA से डरने की जरूरत नहीं है. नेहरू-लियाकत पैक्ट का इंप्लेमेंटेशन है ये. लेकिन राहुल का इतिहासिक DOCUMENT से कोई लेना देना ही नहीं है. चिट लेकर आते है उसे पढ़ते हैं, चिट में इतनी सारी बातें आती नहीं हैं घुसपैठियों और शर्णार्थियों में फर्क है. राहुल गांधी, अरविंद केजरीवाल और ममता को अगर रोजगार की इतनी चिंता तो बांग्लादेशी और रोहिंग्या घुसपैठियों पर क्यों नहीं बोलते तब इनके जुबान सिल जाती हैं क्योंकि वोट बैंक देखते हैं.'

राइजिंग भारत समिट कार्यक्रम में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा, 'विपक्ष का मोदी जी से ज्यादा प्रेम तभी चुनाव के पास गाली देते है. लेकिन ये रिकार्ड है कि जब-जब मोदी जी को गाली देते हैं कमल और जोर से खिलता है और इस बार भी यही होगा.'

विपक्षी नेताओं पर जांच एजेंसियों के एक्शन के लेकर उठाए गए सवाल पर टिप्पणी करते हुए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा, 'ऐजंसी की कार्रवाई पर सवाल मत उठाओ. कांग्रेस और ममता के नेताओं के घर से जितने पैसे पकड़े गए, नोटों की गिनती करते-करते मशीन गर्म हो जाती है. भ्रष्टाचार पर जांच पर सवाल मत उठाओ. भ्रष्टाचार पर कठोर कार्रवाई होगी. भ्रष्टाचारी जेल की सलाखों के पीछे होंगे.'

राइजिंग भारत समिट कार्यक्रम में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा, 'हम इस बार 400 से अधिक सीटें जीतेंगे. हम जो कहते हैं वो करते हैं. इस बार काफी गुंजाइश है. हम आगामी चुनावों में बंगाल, ओडिशा, केरल, तमिलनाडु और पंजाब में अपनी सीटें बढ़ा सकते हैं.'

इस चुनावी सीजन में क्या बीजेपी और बीजेडी एक साथ आएंगे, इस पर बोलते हुए अमित शाह ने कहा, "आइए पहले तय करें कि क्या हम गठबंधन में हैं. अगर हम अकेले लड़ेंगे तो राज्य में सरकार बनाने के लिए लड़ेंगे

Add Rating and Comment

Enter your full name
We'll never share your number with anyone else.
We'll never share your email with anyone else.
Write your comment
CAPTCHA

Your Comments

Side link

Contact Us


Email:

Phone No.