• 29-05-2024 17:35:56
  • Web Hits

Poorab Times

Menu

लोको पायलट का दर्द...:14 हजार इंजन में केवल 97 में ही टॉयलेटपानी किसी में नहीं, ड्यूटी भी 12 से 14 घंटे

दुनिया के चौथे सबसे बड़े रेल नेटवर्क को गति देने के लिए 14 हजार इंजन के जरिए ट्रेन खींचने वाले 60 हजार से ज्यादा लोको पायलट बेहद मुश्किल हालात में ड्यूटी निभा रहे हैं। इन 14 हजार इंजनों में न पानी है और न ही बैठने के लिए कुर्सी। इन्हें 12 घंटे और कई बार 14 घंटे तक खड़े रहकर ड्यूटी करनी है। यही दिक्कतें 1,000 से ज्यादा महिला लोको पायलट भी झेल रही हैं। सिर्फ 97 इंजन में टॉयलेट है। जब भी ट्रेन हादसा होता है, लोको पायलट की गलती की तलाश शिद्दत से शुरू हो जाती है, लेकिन उनकी दिक्कतों पर किसी का ध्यान नहीं है। हादसे होते हैं, तब अफसरों का ध्यान इन दिक्कतों की ओर जाता है, कुछ दिन सुधार की कोशिश होती है, फिर सब पहले जैसा। 2016 में मानवाधिकार आयोग ने इंजनों में एसी और टॉयलेट की व्यवस्था करने को कहा था, लेकिन इस पर अमल अब तक नहीं हुआ। रनिंग स्टाफ से 9 घंटे से अधिक ड्यूटी नहीं लेने की गाइडलाइन आई, पर अमल नहीं हुअा। बिलासपुर रेल मंडल के सिंहपुर रेलवे स्टेशन में 19 अप्रैल को दो मालगाड़ियों की टक्कर से एक लोको पायलट की मौत हो गई थी। जांच में पता चला कि मालगाड़ी चला रहा लोको पायलट लगातार 14 घंटे से ड्यूटी कर रहा था और बुरी तरह थका हुआ था। यह रिपोर्ट भी पिछली रिपोर्ट्स की तरह ही गुम हो गई।

ओवरटाइम मजबूरी: लोको पायलट घटे, समस्या इसलिए
उसलापुर स्टेशन.. दोपहर के 3 बजे थे। एक गुड्स ट्रेन करीब एक घंटे से मिडिल लाइन पर खड़ी थी। उसके पायलट ने रेलवे के नियमों के अनुसार हमे जनकारी नहीं दी, सिर्फ यही कहा कि स्टेशन, आउटर या घने जंगल-पहाड़ों में इंतजार की आदत हो गई। लोको पायलट घटकर 50-60 हजार बचे हैं, इसलिए ओवरटाइम मजबूरी है।

लंबा इंतजार: सिग्नल ग्रीन होने तक घंटों खड़े रहते हैं
पैसेंजर ट्रेनों के लोको पायलट को सिग्नल के लिए ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ता, लेकिन गुड्स ट्रेन चलाने वाले लोको पायलट को सिग्नल के इंतजार में घंटों धूप, गर्मी और रात के अंधेरे में इंतजार करना पड़ता है। उतर नहीं सकते। इंजन में ही रहकर सजग रहना पड़ता है कि कब ग्रीन सिग्नल हो जाए और ट्रेन रवाना करना पड़े।

Add Rating and Comment

Enter your full name
We'll never share your number with anyone else.
We'll never share your email with anyone else.
Write your comment
CAPTCHA

Your Comments

Side link

Contact Us


Email:

Phone No.